Wednesday, September 20, 2017
Home > ट्रेंडिंग > यूपी असेंबली में विस्फोटक, गुस्साये योगी आदित्यनाथ बोले- साजिश का पर्दाफाश होना जरूरी

यूपी असेंबली में विस्फोटक, गुस्साये योगी आदित्यनाथ बोले- साजिश का पर्दाफाश होना जरूरी

लखनऊ: यूपी विधानसभा में अंदर 12 जुलाई को मिला सफेद पाउडर विस्फोटक है. एंटी माइनिंग और डॉग स्क्वॉड की टीम जब विधानसभा के अंदर जांच कर रही थी तो इसी दौरान उन्हें सफेद पाउडर मिला था.इस पाउडर को फॉरेंसिंक जांच के लिए भेज दिया गया. जांच में पता चला है कि यह पाउडर प्लास्टिक एक्सप्लोसिव है, लेकिन यह डेटोनेटर के साथ ही काम करती है, इससे अलग से विस्फोट नहीं होता. यह विस्फोटक यह उसी जगह पर रखा था जहां तमाम पार्टियों के नेता बैठते हैं. इस लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने हाईलेवल मीटिंग बुलाई थी. यह विपक्ष वाली लाइन में मिला था.

यूपी विधानसभा में मिला पाउडर निकला विस्फोटक
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 150 ग्राम PETN मिला है. यह एक पुड़िया में मिला. विस्फोटक मिलना चिंताजनक है.यह एक खतरनाक साजिश का हिस्सा है. जो इस साजिश के पीछे हैं उनका पर्दाफाश होना जरूरी है. मैं विपक्षी दलों से इस मामले में सहयोग की अपील करता हूं. उन्होंने इसकी जांच NIA से करवाने की मांग की. कुछ लोग शरारत पर उतर आए हैं, उन्हें सबक सिखाने की जरूरत है. योगी ने कहा कि विधानसभा के भीतर बिना पास की एंट्री बंद होनी चाहिए. सदन के सभी सदस्य सुरक्षा संबंधी गाइडलाइंस को फॉलो करें. सीएम योगी ने यह भी कहा कि हमें विधानसभा की सुरक्षा के बारे में भी चिंता करनी चाहिए. सुरक्षा के साथ समझौता नहीं किया जा सकता. सीएम ने कहा कि सुरक्षा के लिए सिर्फ सरकार ही जिम्मेदार नहीं होती, इसके लिए आपसी सहमति भी जरूरी है.

फॉरेंसिक रिपोर्ट के मुताबिक- इस विस्फोट का नाम PETN बताया जा रहा है. लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है कि यह विस्फोटक अंदर कैसे पहुंचा. दरअसल, यूपी विधानसभा में एंट्री के लिए बहुस्तरीय सुरक्षा चक्रों से गुजरना पड़ता है. यही नहीं विधानसभा में सिर्फ विधायकों, मंत्रियों, सफाईकर्मचारी और मार्शल को ही जाने की इजाजत है. इसे लेकर कांग्रेस के नेता अखिलेश प्रताप सिंह ने कहा कि यह राज्य की सुरक्षा का सच सामने लाता है. विधानसभा में विस्फोटक मिलना हैरानी की बात है.ये लोग जब विधानसभा को सुरक्षित नहीं कर सकते तो जनता को क्या करेंगे.

मुख्यमंत्री के भाषण के बाद विधानसभा स्पीकर ने सुरक्षा को लेकर एक नई गाइडलाइंस जारी की
हर गेट पर क्विक रेसपॉन्स टीम की तैनाती
अंदर एटीएस की टीम
एंट्री गेट समेत 6 जगहों पर स्कैनर
कर्मचारियों के पुलिस वेरिफ़िकेशन
पुरानी गाड़ियों के पास रद्द होंगे
विधायक, स्टाफ़ को छोड़ सभी के पास रद्द
ड्राइवरों के पास बनेंगे, विधायक प्रमाणित करेंगे

यह भी पढ़ें-
योगी सरकार का ऐलान, यूपी में इस साल 33 हजार से ज्‍यादा पुलिसक​र्मियों की होगी ‘बंपर भर्ती’​

उत्तर प्रदेश : जेल में बंद कैदियों से मिलने के लिए अब ऑनलाइन बुकिंग, उगाही से छुटकारा मिलेगा
यूपी सरकार में मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि सुरक्षाकर्मी अपना काम कर रहे हैं, किसी को चिंता करने की ज़रूरत नहीं है. आतंकी पूरे भारत में पांव पसारने में लगे हैं, लेकिन यूपी में जगह नहीं मिलेगी.

समाजवादी पार्टी के नेता राजेन्द्र चौधरी ने कहा कि ये तो बहुत ख़तरनाक स्थिति है, सघन जांच की ज़रूरत है.जनता के बीच में तत्काल रिपोर्ट आनी चाहिए. विधानसभा में ये हाल है तो बाक़ी यूपी की सुरक्षा का अंदाज़ा लगा सकते हैं. बीएसपी के असलम रायनी ने कहा कि 403 विधायकों की ज़िंदगी कोहिनूर हीरे की तरह है.

क्या है PETN विस्फोटक?
प्लास्टिक विस्फोटक कहा जाता है
चीनी की तरह सफेद पाउडर
इसमें गंध नहीं होता
मेटल डिटेक्टर की पकड़ से बाहर
गर्मी से भी विस्फोट हो सकता है
बड़े आतंकी संगठन करते हैं इस्तेमाल

source : Ndtv.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please wait...

Subscribe to our newsletter

Want to be notified when our article is published? Enter your email address and name below to be the first to know.