Friday, November 24, 2017
Home > Latest post > लेडी लव मोनिका बेदी से बेइंतहा प्‍यार करता था अंडरवर्ल्‍ड डॉन अबू सलेम

लेडी लव मोनिका बेदी से बेइंतहा प्‍यार करता था अंडरवर्ल्‍ड डॉन अबू सलेम

नई द‍िल्‍ली : 1993 के मुंबई धमाकों के मामले में टाडा कोर्ट ने अंडरवर्ल्‍ड डॉन अबू सलेम को उम्र कैद की सज़ा सुनाई है. मुंबई धमाकों के अलावा अबू सलेम का ज़‍िक्र बार-बार एक्‍ट्रेस मोनिका बोदी के साथ लव अफेयर को लेकर होता रहता है. दोनों के रिश्‍तों को लेकर कई तरह की कहानियां हैं. कोई दावा करता है कि दोनों का सिर्फ अफेयर ही नहीं था बल्कि अबू और मोनिका ने शादी भी की थी. वैसे तो इन इन दावों की कोई पुष्‍टि नहीं है, लेकिन मोनिका बेदी खुद अबू सलेम के साथ अपने रिश्‍तों की बात कबूल चुकी हैं. उधर, अबू सलेम तो कई बार कह चुका है कि वो अब भी मोनिका से प्‍यार करता है.

अंडरवर्ल्‍ड डॉन अबू सलेम के साथ अपने रिश्‍ते के बारे में बातचीत करते हुए मोनिका बेदी ने साल 2014 में फिल्‍मफेयर मैगजीन को एक इंटरव्‍यू दिया. इस इंटरव्‍यू में उन्‍होंने कहा था, ‘अबू से मेरी मुलाकात साल 1998 के अंत में दुबई में एक शो के दौरान हुई थी. उसने खुद को बिज़नेसमैन बताया था. उसने अपना नाम भी कुछ और बताया था. मेरे मुंबई वापस आने के बाद भी वह मुझसे संपर्क में था. हमारी फोन पर ही दोस्‍ती हो गई. वो हर आधे घंट में मुझे फोन किया करता था और हमारे बीच कमफर्ट लेवल बढ़ता जा रहा था. मैने उससे बातें शेयर करना शुरू कर दिया. हमने लगभग नौ महीने तक एक-दूसरे से फोन पर बातें की. मुझे पता ही नहीं चला कि कब हमें प्‍यार हो गया. इसके बाद मैं उससे मिलने दुबई गई. वहां उसने मुझे अपना असली नाम अबू सलेम बताया. हालांकि तब भी मुझे नहीं मालूम था कि अबू सलेम कौन है. उस वक्‍त बहुत लोग अबू के बारे में नहीं जानते थे. उसने मुझे बताया कि उसका गाड़‍ियों का शोरूम है और वह स्‍टेज शो का आयोजन भी करता है. उसने बाहर से मुझे वो शोरूम दिखाया भी था. हमने वहां जो थोड़ा बहुत समय गुज़ारा उस दौरान हम एक-दूसरे के साथ बहुत प्‍यार से रहे. हमने साथ-साथ फिल्‍म देखी , डिनर किया और बस यही सब. वह प्‍यार करने वाला, ध्‍यान रखने वाला और ज़मीन से जुड़ा हुआ था. मुझे इससे आगे कुछ जानने की ज़रूरत ही महसूस नहीं हुई. जब आप प्‍यार में होते हो तब आप इससे ज्‍़यादा कुछ समझना भी नहीं चाहते हो.’

टीवी रिएलिटी शो बिग बॉस की कंटेस्‍टटेंट रह चुकीं मोनिका बेदी के मुताबिक उन्‍होंने अबू सलेम का खौफनाक डॉन वाला चेहरा कभी देखा ही नहीं. रिडिफ डॉट कॉम को दिए इंटरव्‍यू में उन्‍होंने कहा था, ‘मेरे लिए वह हमेशा एक आम आदमी की तरह था. वह हमेशा मुझसे अच्‍छे से पेश आता था. मैंने कभी उसकी निगेटिव साइड नहीं देखी. मैंने हमेशा उसे दूसरों की मदद करते हुए देखा. वह दिल का अच्‍छा आदमी था. मुझे उसके गुज़रे हुए कले के बारे में नहीं पता था. मुझे यह भी नहीं पता था कि उसने क्‍या गलत किया है. वह मेरे लिए बहुत पज़‍ेसिव था और मेरी बहुत इज्‍़ज़त करता था. हमार रिश्‍ता कोई टाइम पास नहीं था, न ही उसकी तरफ से और न मेरी तरफ से.’

फिर एक वक्‍त ऐसा आया जब मोनिका बेदी रिश्‍ते को खत्‍म कर आगे बढ़ना चाहती थी. मोनिका के मुताबिक, ‘मैं पुर्तगाल में अबू को समझाती थी कि हमारे बीच में चीज़ें काम नहीं कर रही हैं और हम दोनों एक-दूसरे से अलग हैं. मैंने उससे कई बार कहा था कि हमें इन सब से बाहर निकलने के लिए कुछ करना होगा. मैं उसे किसी भी पल नुकसान नहीं पहुंचाना चाहती थी लेकिन हम साथ भी नहीं रह सकते थे. वह मुझसे कहता था कि मुझे थोड़ा वक्‍त दो, मुझे सेटल होने दो. हमें सबसे पहले सुरक्ष‍ित होने की ज़रूरत है इसके बाद तुम चले जाना. हम इस तरह की बातें किया करते थे.’

इससे पहले कि मोनिका और अबू पुर्तगाल से निकल पाते 20 सितंबर 2002 को इंटरपोल ने दोनों को लिस्‍बन से गिरफ्तार कर लिया. दोनों को फर्जी दस्‍तावेज़ों के आधार पर पुर्तगाल में घुसने के आरोप में जेल भी जाना पड़ा. साल 2006 में एक भारतीय कोर्ट ने मोनिका बेदी को जाली नाम से पासपोर्ट बनाने का दोषी पाया था. साल 2010 में सुप्रीम कोर्ट ने मोनिका की सज़ा तो बरकरार रखी लेकिन उसकी अवधि थोड़ी कम कर दी क्‍योंकि वो पहले ही सज़ा काट चुकी थी.

मोनिका कह चुकी हैं कि गिरफ्तारी के बाद से वह अबू सलेम से संपर्क में नहीं हैं. उन्‍होंने हिंदुस्‍तान टाइम्‍स को दिए एक इंटरव्‍यू में कहा था, ‘हम संपर्क में नहीं हैं. हम दोनों बहुत कम समय के लिए एक-दूसरे के साथ थे, न कि लंबे समय तक जैसा कि लोगों को लगता है. मैं आज भी हमारे रिश्‍ते की इज्‍़ज़त करती हूं लेकिन मैं अब आगे बढ़ चुकी हूं. मैंने कभी हमारे रिश्‍ते की बात से इनकार नहीं किया. वह प्‍यार ही था और उससे ज्‍़यादा कुछ नहीं. अब मेरी ज़‍िदगी में काम यानी कि टीवी और फिल्‍मों के अलावा कुछ और नहीं है. 2002 में गिरफ्तारी के बाद से हम संपर्क में नहीं हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please wait...

Subscribe to our newsletter

Want to be notified when our article is published? Enter your email address and name below to be the first to know.