विदेश

नेपाल नागरिकता कानून में हुए राजनीति.

nepal citizenship law amendment ruling party mps rebellion against government of nepal

nepal citizenship law amendment ruling party mps rebellion against government of nepalनेपाल: राजनितिक विवाद में नागरिकता के खिलाफ विरोध में बगावत के गीत दिखाई देने लगे है. नेपाल के पार्टी के संसद और पूर्व मंत्री अपनी पार्टी के विरोध में मोर्चा खोल दिया है

नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के दो मधेशी सांसदों ने खोला मोर्चामातृका यादव और प्रभु साह ने सरकार के विरोध में मोर्चा
नेपाल की कम्युनिस्ट पार्टी ने भारतीय विवाहित महिलाओं को शादी के 7 साल बाद नागरिकता देने के कानून के फैसले को आगे बढ़ाते हुए रविवार को संसदीय समिति से बहुमत से पारित कर दिया है. नेपाल की विपक्षी पार्टियों के तमाम दलील और विरोध को खारिज करते हुए सत्तारूढ़ दल ने नागरिकता संबंधी विवादास्पद कानून बनाने की प्रक्रिया को आगे बढा दिया है.

बहरहाल, इस कानून के विरोध में प्रदर्शन हो रहा है. मधेश क्षेत्र के 2 सांसदों ने भी सरकार के इस फैसले का विरोध जताया है. इसके बावजूद नेपाल की ओली सरकार अगले दो दिनों में इसे संसद से पारित कराने की तैयारी में है.

संडे को संसद की मीटिंग में नेपाल के विपक्षी दाल और समाजवाड़ी पार्टी के नेताओ ने इस पर विरोध जताया था.

संसदीय समिति में बोलते हुए नेपाली कांग्रेस के सांसद दिलेन्द्र प्रसाद बडु ने कहा कि यह संवैधानिक विषय होने के साथ-साथ हमारे पारिवारिक, सामाजिक, सांस्कृतिक रिश्तों पर इसका सीधा असर पडने वाला है. इतना ही नहीं इस कानून का असर पूरे देश पर पड़ सकता है. इसलिए पूरी जिम्मेदारी के साथ और गंभीरतापूर्वक इस विषय को सोच समझकर आगे बढ़ाना चाहिए.

Most Popular

To Top